Tuesday, 29 November 2022

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

मानवता शर्मशार : सौतेली मां ने साढ़े तीन साल के बच्चे को मौत के घाट उतारा । पिता भी शक के दायरे में ....

मानवता शर्मशार : सौतेली मां ने साढ़े तीन साल के बच्चे को मौत के घाट उतारा ।  पिता भी शक के दायरे में ....

SOURCE BY : POST REPORTS

ठाणे के डोंबिवली में मां की ममता उस वक्त शर्मशार हो गई , जब एक सौतेली मां ने अपने साढ़े तीन साल के बच्चे को पीट पीटकर मार डाला । मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया ।


महिला को तिलकनगर पुलिस ने हिरासत में ले लिया है । अंतिमा देवी(२८) संजय जैसवाल पार्थली ( गोग्रास वाडी) में सीताबाई निवास के पास रहनेवाली

अंतिमा देवी के पास पहले पति से दो बेटे और संजय जैसवाल से दो बेटे बड़ा बेटा सात साल और मृतक कार्तिक साढ़े तीन साल का था।

अंतिमा देवी घरेलू महिला और उनका पति संजय जैसवाल इलेक्ट्रिक का काम करता था । सौतेले बच्चो को अंतिमा हमेशा मारती थी , परसो भी उसने छोटे बेटे कार्तिक को बहुत मारा , वायर से भी मारा और कार्तिक बेहोश होकर गिर पड़ा , इस अवस्था में उसे डोंबिवली के शास्त्री नगर हॉस्पिटल ले गए , जगत उसकी तबियत ज्यादा गंभीर देखकर वहां के डॉक्टर उसे कलवा के छत्रपति शिवाजी महाराज हॉस्पिटल में रेफर कर दिया । जहां उसकी मृत्यु हो गई । 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि जांच से पता चला है कि अंतिमा देवी ने बच्चे को कथित तौर पर लात, घूसों और तार से पीटा। तिलक नगर पुलिस स्टेशन के निरीक्षक सुरेश सरदे ने बताया कि अभी हत्या के पीछे के मकसद का पता नहीं चल पाया है और पुलिस मामले की जांच कर रही है।


पोस्ट रिपोर्ट्स की इन्वेस्टिगेशन टीम को पता चला है , अंतिमा देवी बच्चो को अपने पति संजय जैसवाल के सामने भी बड़ी बेरहमी से पीटती थी , और कई बार संजय के बड़े बेटे ने भी बताया की सौतेली मां उन लोगों को निर्दयता से मारती है , किंतु पत्नी प्रेम में लाचार संजय बच्चो की बात न मानकर पत्नी को सही साबित कर देता था । 

हमारी टीम संजय जहां पहले रहता था , उस सोसायटी के लोगो से भी बातचीत किया , जहां लोगो ने संजय के शामिल होने की शंका व्यक्त की है ।

मासूम की हत्या का कही न कही जिम्मेदार संजय जैसवाल पर भी हत्या का मामला दर्ज होना चाहिए ।