Tuesday, 09 August 2022

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

पिछड़े वर्ग को 52 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए मोहम्मद अरशद ख़ान पूर्व विधायक

पिछड़े वर्ग को 52 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए मोहम्मद अरशद ख़ान पूर्व विधायक

SOURCE BY : POST REPORTS

Jaunpur: देश में पिछड़े वर्ग की आबादी लगभग 52 प्रतिशत है, आजादी के 75 साल बाद भी अभी पिछड़े वर्ग को जीवन के हर क्षेत्र में आबादी के अनुपात में हिस्सेदारी और भागीदारी नहीं मिली है, ग्राम पंचायतों, नगर पंचायतों,और नौकरियों में सभी राज्यों में पिछड़े वर्ग को आरक्षण मिला हुआ है ,मगर किसी राज्य में 27 प्रतिशत, किसी में 10 प्रतिशत, किसी में 12 प्रतिशत, किसी राज्य में 14 प्रतिशत आरक्षण मिला हुआ है, इस आरक्षण में भी एकरुपता नहीं है ।


लोकसभा में, देश की सभी विधानसभाओं में और न्याय पालिका में अभी तक पिछड़े वर्ग को आरक्षण नहीं मिला है। इसलिए हमने राष्ट्रपति प्रधानमंत्री से मांग किया है कि लोकसभा में, देश की सभी विधानसभाओं में, न्यायपालिका में, सुप्रीम कोर्ट में, हाईकोर्ट में, नगर पंचायतों में, ग्राम पंचायतों में, केन्द्र और प्रदेश की नौकरियों में, मेडिकल, इंजीनियरिंग से लेकर सभी तरह की शिक्षा में पिछड़े वर्ग को 52 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए।


इसको लेकर मदर टेरेसा फाउंडेशन और अम्बेडकर सेना ने 8 मई 2022 से देशव्यापी आरक्षण आंदोलन शुरू किया है ताकि पिछड़े वर्ग को आरक्षण मिला चाहिए इसको लेकर मदर टेरेसा फाउंडेशन के संस्थापक मोहम्मद अरशद ख़ान पूर्व विधायक जौनपुर अंबेडकर सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजिंद्र पासी ने मिल कर पिछड़े वर्गों को आरक्षण दिलाने की मांग की