Tuesday, 09 August 2022

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी का राज ठाकरे पर हमला, 'जो भौंकते हैं, उन्हें भौंकने दो'

AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी का राज ठाकरे पर हमला, 'जो भौंकते हैं, उन्हें भौंकने दो'

SOURCE BY : POST REPORTS

• AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की है



• अकबरुद्दीन ओवैसी खुल्दाबाद में औरंगजेब की कब्र पर गए और फूल चढ़ाए


• स्कूल ऑफ एक्सीलेंस की आधारशिला रखने औरंगाबाद आए थे अकबरुद्दीन ओवैसी


• पूर्व सांसद और शिवसेना नेता चंद्रकांत खैरे ने अकबरुद्दीन पर राजनीतिक विवाद पैदा करने की कोशिश करने का आरोप लगाया


महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर और हनुमान चालीसा को लेकर सियासत जारी है. इस बीच एआईएमआईएम नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की है। अकबरुद्दीन ने औरंगाबाद में एक सभा में राज ठाकरे का नाम लिए बगैर कहा, ''मैं यहां किसी को जवाब देने नहीं आया हूं, न ही किसी को बुरा कहने आया हूं. मैं किसी को जवाब नहीं देना चाहता. मेरे पास एक सांसद है और तुम बेघर हो, तुम हो लापता, तुम्हें अपने ही घर से निकाल दिया गया है। मैं कहूंगा कि जो भौंकते हैं, उन्हें भौंकने दो।" ओवैसी ने आगे कहा कि देश में नफरत की बात हो रही है, लेकिन वह नफरत से नहीं बल्कि प्यार से जवाब देंगे. देश में अज़ान की बात हो रही है, लिंचिंग और हिजाब की बात हो रही है, इसलिए डरने की ज़रूरत नहीं है, बस मुसलमानों को एक साथ खड़े होने की ज़रूरत है. 


अकबरुद्दीन औरंगजेब की कब्र पर भी गए थे


इससे पहले, अकबरुद्दीन ओवैसी ने खुल्दाबाद में औरंगजेब की कब्र का दौरा किया और फूल चढ़ाए और उनके साथ औरंगाबाद के सांसद इम्तियाज जलील और पूर्व विधायक वारिस पठान भी थे। विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी स्कूल ऑफ एक्सीलेंस का शिलान्यास करने औरंगाबाद आए थे। 


• औरंगजेब के मकबरे पर गए अकबरुद्दीन ओवैसी


• विवाद पैदा करना चाहते हैं अकबरुद्दीन : चंद्रकांत खैरे


पूर्व सांसद और शिवसेना नेता चंद्रकांत खैरे ने अकबरुद्दीन पर राजनीतिक विवाद पैदा करने की कोशिश करने का आरोप लगाया। उन्होंने आगे कहा कि कोई भी हिंदू या मुस्लिम उस मकबरे पर नहीं जाएगा क्योंकि औरंगजेब सबसे क्रूर मुगल सम्राट था। लेकिन ओवैसी और उनकी पार्टी के नेता राजनीतिक फायदे के लिए विवाद पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं. 


हालांकि इसका बचाव करते हुए सांसद इम्तियाज ने कहा, ''हमारे नेता हैदराबाद से आए हैं और औरंगाबाद में एक मुफ्त स्कूल शुरू कर रहे हैं जो किसी समुदाय विशेष के लिए नहीं है, बल्कि यहां के सभी बच्चों को मुफ्त शिक्षा मिलेगी. आज उसी का शिलान्यास रखी गई थी। मैं चाहता हूं कि सभी नेता प्रेरित हों।"