Tuesday, 09 August 2022

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

ज्ञानवापी मुद्दे को लेकर भाजपा पर बोला हमला , कहा- समाज को बांटना चाहती है भाजपा : अखिलेश यादव

ज्ञानवापी मुद्दे को लेकर भाजपा पर बोला हमला , कहा- समाज को बांटना चाहती है भाजपा : अखिलेश यादव

SOURCE BY : POST REPORTS

चंदौली केस: दबिश के बहाने दबंगई, सबसे ज्‍यादा फेक एनकाउंटर और कस्‍टोडियल डेथ, चुनाव जीतने के लिए पुलिस का इस्‍तेमाल, योगी सरकार पर बरसे अखिलेश



वाराणसी : पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सोमवार को वाराणसी पहुंचे। वाराणसी एयरपोर्ट पर उतरने के बाद वो सड़क मार्ग से चंदौली के लिए रवाना हो गए। इसके पहले उन्होंने एयरपोर्ट पर ज्ञानवापी सर्वे मामले में बड़ा बयान दिया। अखिलेश यादव ने कहा कि ‘भारतीय जनता पार्टी चाहती है कि समाज में शान्ति न रहे। समाज में एक दूसरे से झगड़ा हो। समाज बंट कर रहे। नौकरी-बेरोजगारी पर चर्चा न हो, इसलिए भाजपा लगातार इसी तरह का काम करती है।’ वहीं अखिलेश यादव ने प्रदेश के थानों को अराजकता का अड्डा भी बताया। बता दें कि अखिलेश यादव चंदौली के सैयदराजा थानाक्षेत्र में पुलिसिया उत्पीड़न से मृत युवती के परिजनों से मुलाकात करेंगे। वहां से वापस लौटकर दोपहर में चौकाघाट जिला कारागार में EVM प्रकरण में बंद समाजवादी कार्यकर्ताओं से मुलाकात भी करेंगे।


प्रदेश के थाने अराजकता का केंद्र




एयरपोर्ट पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर बोलते हुए कहा कि ‘प्रदेश में थाने अराजकता के केंद्र बन गए हैं। पुलिस दबिश देने नहीं जाती है, प्रदेश में पुलिस दबंगई दिखाने जाती है। चंदौली की घटना पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि जहां बेटी और परिवार का आरोप हो कि पुलिस ने जान ली है। पुलिस घर में घुसी थी। पुलिस पूरी तैयारी के साथ गयी थी की किसी न किसी की जान लेनी है और जान ले ली। मुझे सरकार की जांच पर भरोसा नहीं। जांच हाईकोर्ट के सीटिंग जज करेंगे तो शायद उस परिवार को न्याय मिल पाएगा, लेकिन सरकार की जांच से न्याय नहीं मिलेगा। थाने में एक ही लोग की पोस्टिंग है। कौन थाने में पोस्टिंग करवा रहा है।आखिरकार जिम्मेदार कौन है इसके लिए।’


भाजपा चाहती है समाज में शान्ति न रहे


ज्ञानवापी सर्वे के मामले में पर बोलते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा की ‘भारतीय जनता पार्टी लगातार इसी तरह का काम करती है। भारतीय जनता पार्टी चाहती है कि समाज में शान्ति न रहे। समाज में एक दुसरे से झगड़ा हो। समाज बंट करके रहे। नौकरी-बेरोजगारी पर चर्चा न हो। भाजपा के लोग कहते हैं कि डॉलर की कीमत किया होगी। आज डॉलर कहां पहुँच गया। जो दुनिया में डंका बजाते थे वो बताएं आज डॉलर के सामने रुपया कहाँ पहुँच गया। हमारी अर्थव्यवस्था कहां पहुंच गयी। कुछ लोग सबकुछ सारे संसाधन खरीद रहे हैं। न नौकरी हैं न रोजगार है भाजपा के पास। इस सवाल का जवाब क्या है बीजेपी के पास। उन्होंने कहा कि जनता को खुद महंगाई-बेरोजगारी के सामने आना पड़ेगा।’


गंगा में खत्म हुई डिसॉल्व ऑक्सीजन


अखिलेश यादव ने गंगा प्रदूषण पर सरकार को घेरते हुए कहा कि ‘आप ने गंगा सफाई की बात की पर आज गंगा में ज़िंदा मछली डाली जा रही है तो वह मर रही है। कारण यह है कि गंगा में डिसॉल्व ऑक्सीजन खत्म हो रही है। मतलब गंगा में ऑक्सीजन नहीं कार्बन डाइऑक्साइड बह रही है।’




पूरी पार्टी आजम खां के साथ


आजम खां प्रकरण पर पूछे गए सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि ‘आजम खां साहब जब भी आएंगे हम लोग उनके साथ रहेंगे। पूरी समाजवादी पार्टी उनके साथ है। हम लगातार आजम खां साहब के और उनके परिवार पर जो केस हैं उसपर उनके वकील से चर्चा करते रहते हैं।’