Tuesday, 09 August 2022

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

U P Election : अखिलेश यादव ने EVM पर उठाए सवाल, कहा- जहां हार रही बीजेपी, वहां डीएम को काउंटिंग स्लो करने के दिए गए निर्देश

U P Election : अखिलेश यादव ने EVM पर उठाए सवाल, कहा- जहां हार रही बीजेपी, वहां डीएम को काउंटिंग स्लो करने के दिए गए निर्देश

SOURCE BY : POST REPORTS

U P Election : अखिलेश यादव ने EVM पर उठाए सवाल, कहा- जहां हार रही बीजेपी, वहां डीएम को काउंटिंग स्लो करने के दिए गए निर्देश



यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ईवीएम को लेकर जिलाधिकारियों पर जमकर बरसे. अखिलेश ने यूपी चुनाव को लोकतंत्र की अंतिम लड़ाई बताया.



अखिलेश ने कार्यकर्ताओं से ईवीएम पर नजर रखने का किया आह्वान



कहा- मुख्यमंत्री अपने प्रमुख सचिव से डीएम को करा रहे फोन



यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी कार्यकर्ताओं से सतर्क रहने और वोट बचाने के लिए निगरानी करने की अपील की है. उन्होंने यूपी चुनाव को लोकतंत्र की आखिरी लड़ाई बताते हुए कहा कि ये सरकार अब वोट की चोरी पर उतर आई है. अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव डीएम को फोन कर रहे हैं कि जहां बीजेपी हार रही है वहां काउंटिंग स्लो करें और रात तक लेकर जाएं.






अखिलेश यादव ने कहा कि 47 सीटें ऐसी हैं जहां बीजेपी कभी नहीं जीती. क्या वजह है कि बिना सिक्योरिटी के इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) ले जाई जा रही हैं. वाराणसी में तीन ट्रक EVM लेकर जा रहे थे. एक ट्रक पकड़ा गया और दो भाग गए. डीएम कह रहे हैं कि ट्रेनिंग के लिए ले जा रहे थे. क्या मैं नहीं जानता कि डीएम कौन है. मुजफ्फरनगर में पहली पोस्टिंग मैंने दी थी.



काउंटिंग तक नजर रखें कार्यकर्ता



उन्होंने आरोप लगाया कि बरेली में भी SDM और अधिकारियों की गाड़ी में EVM और बैलट पेपर पकड़े गए. सोनभद्र में भी बैलट पेपर मिले हैं. Exit polls इसीलिए हैं कि परसेप्शन बना दें कि बीजेपी जीत रही है जिससे हम वोट की चोरी भी करें तो वो छिप जाए. सपा अध्यक्ष ने अपनी पार्टी के लोगों से आह्वान किया कि जब तक काउंटिंग न हो जाए तब तक नजर रखें. वोट बचाएं. ये लोकतंत्र के लिए खतरे का समय है.






करनी पड़ेगी आजादी की लड़ाई जैसी क्रांति



यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि ये लोकतंत्र की आखिरी लड़ाई है. इसके बाद तो लोकतंत्र के लिए आजादी की लड़ाई जैसी क्रांति करनी पड़ेगी. उन्होंने दावा किया कि जमीन पर चुनाव बीजेपी के खिलाफ है. जनता बीजेपी से नाराज है. 47 सीटों पर बीजेपी कम अंतर से जीती थी. अखिलेश यादव ने EVM की सुरक्षा पर सवाल उठाए और सूबे के हर विधानसभा क्षेत्र में सपा कार्यकर्ताओं से चौकन्ना रहने की अपील की.




वाराणसी के डीएम को निशाने पर रखा



उन्होंने कहा कि मतगणना में धांधली की कोशिश को नाकाम करने के लिए सपा-गठबंधन के सभी प्रत्याशी और समर्थक अपने-अपने कैमरों के साथ तैयार रहें. युवा लोकतंत्र व भविष्य की रक्षा के लिए मतगणना में सिपाही बने. अखिलेश यादव अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान तल्ख अंदाज में नजर आए और वाराणसी के डीएम को खासतौर से निशाने पर रखा.



सपा ने पदाधिकारियों को लिखे पत्र



सपा की ओर से प्रदेश के हर जिले के पदाधिकारियों, विधायकों और विधान परिषद सदस्यों, पूर्व और वर्तमान सांसदों को पत्र लिखकर एग्जिट पोल को बीजेपी की ओर से भ्रम फैलाने की कोशिश बताया गया है. सपा की ओर से कहा गया है कि बंगाल चुनाव के समय भी बीजेपी के पक्ष में ऐसा किया गया था. सोशल मीडिया पर एक्टिव होकर कार्यकर्ताओं को सतर्क करते रहने की सलाह देते हुए कहा गया है कि सभी प्रत्याशियों के अभिकर्ता ईवीएम की गिनती से पहले पोस्टल बैलट की गिनती कराने का दबाव बनाएं. सपा के पत्र में कहा गया है कि बीजेपी की रणनीति पोस्टल बैलट प्रभावित करके कम से कम एक अतिरिक्त सीट हर जिले में कम अंतर से हासिल करने की है. जीत का प्रमाण पत्र मिलने तक पूरी मुस्तैदी से मतगणना केंद्र पर डटे रहें.