Tuesday, 09 August 2022

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

हाथी से उतरे लालजी वर्मा और रामअचल साइकिल पर होंगे सवार, जानिए जिले के इस कद्दावर नेता की रणनीति

हाथी से उतरे लालजी वर्मा और रामअचल साइकिल पर होंगे सवार, जानिए जिले के इस कद्दावर नेता की रणनीति

SOURCE BY : POST REPORTS

जौनपुर। एक महत्वपूर्ण राजनीतिक घटनाक्रम में शुक्रवार को बसपा से निष्कासित राम अचल राजभर और लालजी वर्मा ने लखनऊ में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की। सूत्रों की मानें तो जिले के कद्दावर नेता शैलेंद्र यादव ललई की पहल, प्रयास और रणनीति है, बसपा के कद्दावर नेताओं को समाजवादी पार्टी में शामिल करवाने की है।


समाजवादी पार्टी में लालजी वर्मा और राम अचल के जाने का रास्ता साफ नजर आ रहा है। बसपा अध्यक्ष मायावती ने दोनों नेताओं को पिछले दिनों पार्टी से बाहर कर दिया था। इसके बाद से ही इन दोनों नेताओं के अगले कदम को लेकर तरह तरह के कयास लगाए जा रहे थे। राम अचल राजभर अकबरपुर सीट से विधायक हैं तो वहीं लालजी कटेहरी से विधायक निर्वाचित हुए थे। बसपा से निकाले जाने से पहले वे पार्टी के नेता विधानमंडल दल थे। जबकि राम अचल को राष्ट्रीय महासचिव तक की जिम्मेदारी मिली थी। 


लालजी वर्मा भी बसपा के सभी सरकारों में अहम मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालते रहे हैं और बसपा विधायक दल के नेता थे. कुर्मी समुदाय से आने वाले लालजी वर्मा का यूपी में अपना सियासी कद है. वर्मा और राजभर दोनों ही अंबेडकरनगर जिले से आते हैं. ऐसे में बसपा छोड़कर सपा में जाने से अखिलेश यादव को सियासी ताकत मजबूत होगी.