Saturday, 31 July 2021

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

दिल्‍ली-एनसीआर में हिली धरती, आसपास के इलाकों में भी महसूस किए गए भूकंप के झटके

दिल्‍ली-एनसीआर में हिली धरती, आसपास के इलाकों में भी महसूस किए गए भूकंप के झटके

SOURCE BY : POST REPORTS

राजधानी सहित दिल्ली और आसपास के इलाकों में धरती हिलने से लोगों की धड़कनें बढ़ गईं. दिल्‍ली के अलावा एनसीआर के इलाके नोएडा, गाजियाबाद में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए.


दिल्ली: दिल्ली और आसपास के इलाकों में भूकंप के झटके (Earthquake in Delhi-NCR) महसूस किए गए. राजधानी के अलावा नोएडा, गाजियाबाद में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 3.7 मापी गई है. भूकंप का केंद्र हरियाणा के झज्जर में था. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक 10:36 पर भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप की गहराई 5 किलोमीटर पर थी.



कल गुजरात में आया था भूकंप


कल (4 जुलाई) को गुजरात के कच्छ जिले में सुबह 3.7 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. अधिकारियों ने बताया कि इस दौरान जान-माल के किसी प्रकार का नुकसान होने की कोई जानकारी नहीं मिली है. गांधीनगर स्थित भूकंपीय अनुसंधान संस्थान के एक अधिकारी ने कहा कि सुबह सात बजकर 25 मिनट पर 3.7 तीव्रता का भूकंप आया था, जिसका केंद्र दुधाई से 19 किलोमीटर उत्तर-उत्तरपूर्व में 11.8 किलोमीटर गहराई में था. गुजरात स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने कहा कि कच्छ जिला भूकंप के मामले में अत्यधिक जोखिम वाले क्षेत्र में आता है. इस जिले में जनवरी 2001 में 6.9 तीव्रता का विनाशकारी भूकंप आया था.




एक सप्ताह के अंदर अलग-अलग जगहों पर चौथी बार हिली धरती


गुजरात से पहले महाराष्ट्र के पालघर जिले में बीती 1 जुलाई को 12 घंटे से भी कम समय में दो हल्के झटके महसूस किये गए और इससे जानमाल के किसी नुकसान की सूचना नहीं है. बीते बुधवार रात 9 बजकर 35 मिनट पर 3.1 तीव्रता का झटका महसूस किया गया था और गुरुवार को सुबह सात बजे 3.7 तीव्रता का कंपन महसूस किया गया. पालघर के डिसट्रिक्ट डिजास्टर कंट्रोल अधिकारी विवेकानंद कदम ने कहा कि भूकंप का केंद्र डुंडलवाड़ी गांव में था और इससे जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ. जिले में नवंबर 2018 से झटके महसूस किये जाते रहे हैं.