Saturday, 31 July 2021

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

प्रधानमंत्री मोदी ने मंत्रियों से कहा, लाइन में लगकर देखिए वैक्सीनेशन में क्या दिक्कतें आ रहीं

प्रधानमंत्री मोदी ने मंत्रियों से कहा, लाइन में लगकर देखिए वैक्सीनेशन में क्या दिक्कतें आ रहीं

SOURCE BY : POST REPORTS

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) केंद्रीय मंत्रिपरिषद की बैठक की अध्यक्षता की. बैठक मे देश में कोविड की स्थिति, संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी और कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर चर्चा हुई.


नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) केंद्रीय मंत्रिपरिषद की बैठक की अध्यक्षता की. बैठक मे देश में कोविड की स्थिति, संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी और कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर चर्चा हुई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंत्रियों से कहा है कि वे वैक्सीनेशन के काम में लगें.


'वैक्सीनेशन में न आए कोई दिक्कत'


देश में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का महाअभियान जारी है. इस बीच प्रधानमंत्री ने एक बार फिर वैक्सीनेशन अभियान को लेकर मंत्रिपरिषद की बैठक में चर्चा की. प्रधानमंत्री ने मंत्रियों से कहा है कि वैक्सीनेश के काम में लगिए. लाइन में खड़े होकर देखिए लोगों को क्या दिक्कत आ रही है? साथ ही इस पर सरकार स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने पर बड़ा कार्यक्रम करने जा रही है, इसको लेकर भी प्रधानमंत्री मंत्रियों से चर्चा की.


मंत्रियों को पीएम के निर्देश


बैठक में वैक्सीनशन को लेकर एक प्रेजेंटेशन दिया गया. अभी तक कितने लोगों को वैक्सीन लग चुकी है और आने वाले महीनों में कैसे सभी उपयुक्त लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी, उसकी डिटेल जानकारी दी गई. मंत्रिपरिषद को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा आप अपने अपने लोक सभा क्षेत्र में जायें तब COVID प्रोटकॉल का पालन करने के साथ साथ मास्क भी लगाएं. आप सब अपने अपने क्षेत्रों में लोगों को भी मास्क लगाने के लिए कहें. यह नहीं समझना चाहिए कि कोविड खत्म हो गया है. 


'तीसरी लहर न आए' 


प्रधानमंत्री ने कहा, हमको इस तरह से काम करना चाहिए कि कोविड की तीसरी लहर न आए. प्रधानमंत्री ने अपने अपने मंत्रालयों के काम को जनता तक पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया का और बेहतर इस्तेमाल करने का निर्देश भी दिया. पीएम ने मंत्रियों से कहा, अपने मंत्रालय और सरकार के कामों को लोगों तक लेकर जाने के लिए जमीन पर उतरिये. लोगों के बीच जाइये. सरकार की योजनाओं और कामों को जनता को बताएं. 


सिर्फ शिलान्यास नहीं, उद्घाटन भी करें


PM ने ये भी कहा कि 75वें स्वतंत्रता दिवस को कैसे यादगार बनाया जाये? इसको लेकर सब अच्छे सुझाव भेजें. सरकार की गरीब कल्याण योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लोगों को कैसे फायदे मिले, इस पर भी काम करें. प्रधानमंत्री ने सभी को हिदायत दी कि जिन योजनाओं का शिलान्यास हम करें, उसका उद्घाटन भी हम करें ये ध्यान में रखकर तेजी से काम करें.मंत्रिपरिषद की बैठक में सड़क परिवहन, सिविल एविएशन और IT मंत्रालयों की तरफ से अलग अलग प्रेजेंटेशन भी दिया गया.


पिछले 1 महीने में तीसरी बैठक


पिछले एक महीने के भीतर इस तरह की यह तीसरी बैठक है. बैठक में प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, कैबिनेट सचिव, सदस्य (स्वास्थ्य) नीति आयोग भी मौजूद रहे. कोविड पर व्यापक चर्चा बैठक का प्रमुख मुद्दा रहा.



मंत्रियों से ले चुके हैं रिपोर्ट कार्ड


बता दें, इससे पहले प्रधानमंत्री ने विभिन्न समूहों में कैबिनेट और राज्य मामलों के मंत्रियों के साथ अपने विभागों और संबंधित मंत्रालयों में चल रहे कार्यों के बारे में चर्चा कर चुके हैं. ये बैठकें प्रधानमंत्री के सरकारी आवास 7, लोक कल्याण मार्ग पर हुईं और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष जे.पी. नड्डा भी मौजूद रहे. 


30 अप्रैल को हुई थी मंत्रिपरिषद की बैठक 


इससे पहले प्रधानमंत्री ने देश में कोविड की दूसरी लहर से उत्पन्न स्थिति पर चर्चा करने के लिए 30 अप्रैल को मंत्रिपरिषद के साथ बैठक की थी, जिसमें यह नोट किया गया कि मौजूदा महामारी इस सदी का बड़ा संकट है और दुनिया के लिए एक बड़ी चुनौती है. उस बैठक में केंद्र, राज्य सरकारों और भारत के लोगों के सामूहिक प्रयासों के आधार पर कोविड से लड़ने के लिए भारत सरकार की टीम इंडिया के दृष्टिकोण पर प्रकाश डाला गया.