Friday, 14 May 2021

पोस्ट रिपोर्ट्स

न्यूज़ पेपर / मैगज़ीन / पब्लिशर

बेमौसम बरसात ने बढ़ाई किसानों की चिंताएं

बेमौसम बरसात ने बढ़ाई किसानों की चिंताएं

SOURCE BY : POST REPORTS

Bureau Chief Vishnu Chansoliya Reports

Postreports Desk Team



जालौन। कोंच शुक्रवार की दोपहर तेज हवाओं के साथ हुई बारिश ने किसानो की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। बारिश की वजह से रबी की कई फसलों पर बुरा असर पड़ा है, जिसमे गेंहू, मटर, मसूर और सरसो की फसलों का 20 फीसदी से अधिक नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है। किसानों की चिंता ये है क अगर आगे और बारिश हुई तो खेतों में खड़ी फसले पूरी तरह चौपट हो जाएगी।


शुक्रवार को तेज हवाओं के साथ हुई बारिश से गेंहू की फसल जमीन पर बिछ गई है। माना जा रहा है कि इस बारिश से तकरीबन 25 फीसदी पैदावर पर असर पड़ने की संभावना है। अब गेंहू के दाने पतले हो जायेंगे जिससे फसल की कटाई के बाद किसानो को उपज का दाम कम मिलेगा। वहीं सरसो की फसल पर भी बारिश ने खासा असर डाला है किसानो के मुताबिक पानी पड़ने पर सरसो की बालियां फूल जाती है और जब कटाई की जाती है तो वह खेतो में ही झड़ने लगती है जिससे किसानो का नुकसान होगा। मंगवार को बारिश के बाद किसानों का कहना है कि अगर बारिश हुई तो फसलों को नुकसान होगा


फसलों की कटाई में होगी देरी


शुक्रवार को हुई बारिश की वजह से गेहूँ, चना, मटर, मसूर, अरहर, सरसो की तैयार फसलों को भारी नुकसान हुआ है। शुक्रवार को दोपहर आकाश में गरज चमक और तेज हवाओं के साथ बरसात शुरू खलिहान में पड़े तिलहन दलहन की फसल भीग गई खेतों में तैयार गेहूं की फसल प्रभावित हुई। किसान तैयार फसलों को भी अब कुछ दिन नहीं काट सकेंगे नहीं काट पा रहा है।


ऐसे हालत में भयभीत किसान बेमौसम तड़क चमक में खेत में कटाई करने से भयभीत है। प्रकृति के बेमौसम बारिश से किसानों का धैर्य टूटता नजर आ रहा है


वही किसानों ने कहा कि सरकार भी किसानों को ठेंगा दिखा रही


आज हुई बेमौसम बारिश ने बढ़ाई किसानो की चिंताएं किसानों ने बताया कि पहले अन्ना जानवरों से रतजगा करके आपीने खेतो की रखवाली करने के बाद अब बेमौसम बरसात ने खेतो पर कटी फसल को नुकसान पहुचाया एक ओर सरकार फसल बीमा का हवाला दे रही दूसरी ओर किसानों को फसल बीमा के नाम पर किसानों को ठगा जा रहा हैं एक ओर सूखा राहत का भी हवाला दिया.


लेकिन किसानों ने बताया कि उन्हें पिछले वर्ष की फसल का भी हर्जाना नही मिला पिरौना निवासी राधेलाल यादव, रामपाल यादव, रणजीत सिंह यादव, आनन्द किशोर यादव, कल्लू यादव, भदोले रजक, हरिश्चंद्र पांचाल, रामबाबू यादव ने बताया कि सरकार किसानों के नाम पर राजनीति कर रही हैं क्योकि पिछली बार फसल का जो नुकसान हुआ उसका अभी तक एक रुपए भी किसानों को नही मिला